Coronavirus Facts Exposed – WHO असली गुनाहगार

coronavirus facts exposed

coronavirus facts exposed

Coronavirus Facts Exposed – मानव इतिहास का ये पहला वाकिया है, जब एक वायरस के सामने पूरी दुनिया घुटनो के बल पर आ चुकी है! इस चाइनीज़ वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या लगातार बढाती जा रही है, मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है और ना तो इसका इलाज मिला है और ना ही इसका जिम्वेदार सक्श ! निश्चित तौर पर इसके लिए चीन जिम्वेदार है, वहा की सत्ताधारी चाइनीज़ कम्युनिस्ट पार्टी जिम्वेदार है लेकिन एक और संस्था है, एक और सक्श है जो इसके लिए सीधे तौर पर जिम्वेदार है! वो संस्था है वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन (WHO)! और वो सक्श है WHO का डायरेक्टर जनरल Dr Tedros.

Coronavirus Facts Exposed – WHO असली गुनाहगार

आखिर Dr Tedros जिम्वेदार क्यों?

हम पीछे मुड़कर देखते हे तो पता चलता है की Dr. Tedros ने कदम दर कदम चीन का साथ दिया और चीन के जुठ को छुपाया! WHO (World Health Organisation) चाहता तो समय रहते इस महामारी को विश्वव्यापी रोग(पान्डेमिक) घोसित कर सकता था! हालांकि ये महामारी फरवरी महीने के पहले सप्ताह में ही तमाम क्रिटेरिआ को पार चुकी थी यानी WHO के जो स्टैंडर्ड थे, महामारी घोसित करने के उसपे खरा उतरता था! लेकिन लगातार डेढ़ महीने तक WHO ये साबित करने की कोसिस करता रहा की अभी भी इस पर काबू पाया जा सकता है! हमें चीन पर गर्व है!

चलिए देखते है WHO ने पूरी दुनिया को कब कब जुठ बोला वो भी Dr. Tedros के कहने पर!

आपको याद होगा की दिसंबर महीने में ही चीन के वुहान में कोरोनावाइरस के मरीज सामने आने लगे थे!

31 दिसंबर को चीन ने पहेली बार WHO को बताया की ये नए तरह का वायरस हो सकता है लेकिन संभव है की न्यूमोनिया हो! WHO उस वक़्त कोई रियेक्ट नहीं करता!

5 जनवरी दुबारा चीन बताता है की ये नए प्रकार का वायरस हो सकता है फिर भी WHO उसको गंभीर नहीं लेता!

9 जनवरी को WHO का बयान आता है की 2002 (SARS), 2012 (MERS) के जैसा ये वायरस हो सकता है जो ज्यादा गंभीर नहीं है!

11 जनवरी को चीन में Coronavirus से पहेली मौत होती है! उस वक़्त भी WHO कहता है की किसी तरह की मेजर्स लेने की जरुरत नहीं है! और जो ट्रैवेलर्स आ रहे हे उसमे कोई दिक्कत नहीं है! हालांकि चीन से जो मामले सामने आ रहे थे उससे ये स्पष्ट हो रहा था की ये एक संक्रमण है जो ह्यूमन टू ह्यूमन फ़ैल रहा है!

अन्य दिलचस्प और रोचक लेख पढ़े:-

14 जनवरी को पहेली बार WHO कहता है की हो सकता है की यह वायरस ह्यूमन टू ह्यूमन फ़ैल रहा है फिर भी इतना गंभीर होने की जरुरत नहीं है! हालांकि तब तक चीन में कई मौत हो चुकी थी!

Coronavirus facts exposed
Coronavirus facts exposed

17 जनवरी को WHO से और एक बयान आता है और मरीजों को एकांत (कोरन्टाइन) में रखने की सलाह WHO नहीं देता है!

23 जनवरी को चीन खुद वुहान शहर को बंध करने का फैसला लेता है! क्युकी मामला तब तक बहुत गंभीर हो चुका था!

28 जनवरी को WHO के डायरेक्टर जनरल Dr. Tedros चीन जाते है और चीन के राष्ट्रपति से मिलते है! और उस वक़्त भी WHO की और से कहा जाता है की चीन इसको संभाल लेगा, कोई ट्रावेल बैन की आवश्यकता नहीं है! हमें चीन पर भरोसा है और चीन इस पे काबू पा लेगा!

फरवरी महीने के पहले सप्ताह में भी WHO का बयान आता है की किसी प्रकार के ट्रावेल बैन की आवश्कयता नहीं है! लेकिन उस वक़्त अमेरिका कहता है की ट्रावेल बैन होना चाहिए उस वक़्त भी WHO की तरफ से पोलिटिकल बयान ही आते है!

Coronavirus Facts Exposed

और इस तरह फरवरी अंत तक Coronavirus कई देशो में हाहाकार मचा चुका था! तब भी WHO कहता है की ट्रावेल बैन की कोई आवश्कयता नहीं है, हमें चीन पर बेहद भरोसा है और चीन इस पर काबू जरूर पा लेगा!

10 मार्च को भी Dr.Tedros का बयान आता है की ये गंभीर जरूर है लेकिन अभी भी उसे काबू में किया जा सकता है!

13 मार्च को आखिरकार CORONAVIRUS को WHO महामारी घोसित करता है! WHO, जिस पर सारी दुनिया की हेल्थ की जिम्वेदारी थी और उस वक़्त WHO की और से Dr. Tedros बोलते है की दुनिया के देशो ने इसे गंभीरता से नहीं लिया! और इस तरह दुनिया के लीडर्स पे जिम्वेदारी थोक दी!

अब आपके मन में ये सवाल आता होगा की WHO ने हर बार चीन की फेवर क्यों की? और दुनिया को इस महामारी में क्यों जोका? आखिर इसके पीछे सच क्या है ? चलिए वो भी हम आपको समजाते है!

इसके लिए हमें Dr. Tedros के बारे में जानना होगा! Dr. Tedros इथोपिया (ethopia) के रहने वाले है! वो इथोपिया के 2005 में स्वास्थ्य मंत्री रहे और विदेशमंत्री भी रह चुके है! लंदन से पढ़े है! मेडिसिन में M.Sc. की है लेकिन प्रक्टिसिन डॉक्टर नहीं है! इसके बावजूद भी WHO के महत्वपूर्ण पद के डायरेक्टर जनरल बना दिए जाते है! और इसको बनाता है चीन!

Dr. Tedros इथोपिया के पॉलिटिक्स में एक जानामाना नाम है! और उनको चीन एक पपेट के तौर पर WHO की बॉडी पर डायरेक्टर जनरल के पद पर चुनाव करा कर, लॉबिंग के बाद वहा पर बिठा देता है! किस लिए? तो इस तरह की महामारी को नजरअंदाज करने के लिए! ये चीन की पॉलिटिक्स थी! जिसका खामियाजा आज पूरी दुनिया भुगत रही है!

थोड़ा और करीब से जानते है की Dr. Tedros दरअसल है क्या ?

Dr. Tedros इथोपिया की Tigray People’s Liberation Front के नेता है! जिसके संबंध चीन की कम्युनिस्ट पार्टी से कई दसको से है! और चीन के लिए इथोपिया का जिओग्राफिकल इम्पोर्टेंस है! इसी लिए China पिछले 20 सालो में करीब 12.1 बिलियन डॉलर का कर्ज इथोपिया को दिया है!

Dr. Tedros के ऊपर जब वो स्वास्थ्य मंत्री थे तब भी और विदेश मंत्री थे तब भी लगातार आरोप लगते रहे है! 2006, 2009, 2011 में भी उनके ऊपर महामारी को छुपाने के आरोप लग चुके है! तो ये है WHO के Dr. Tedros की कहानी जिशकी वजह से आज आप, हम और सारी दुनिया भुगत रही है! अब जरुरत है WHO को इसके लिए जिम्वेदार ठहराया जाए, उसके(WHO) डायरेक्टर जनरल Dr.Tedros को जिम्वेदार ठहराया जाए! और पूरी दुनिया को बताया जाए की आखिर इस महामारी के पीछे कौन जिम्वेदार है!

आपको ये Coronavirus Facts Exposed का लेख कैसा लगा वो कमेंट बॉक्स में जरूर बताये! अन्य रोचक और दिलचस्प लेख के लिए हमें फॉलो करे! अगर आप किसी विषय पर लेख चाहते है तो कमेंट बॉक्स में बता सकते है! हम जरूर उस विषय पर लेख प्रस्तुत करने की कोसिस करेंगे! धन्यवाद्!

Disclaimer:- इस लेख में दी गई जानकारी न्यूज़ पेपर्स और इंटरनेट पर उपलब्ध जानकारी के आधार पर दी गई है “Gkhindinews.com” इसके सच या जूथ होने का दवा नहीं करता, लेख में इस्तेमाल की गई फोटोज उदहारण के तौर पे दिखाई गई है !

अन्य दिलचस्प और रोचक लेख पढ़े:-

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial